FACEBOOK page of THANA

FACEBOOK page of THANA

बुधवार, 16 अगस्त 2017

बुधवार, 28 जून 2017

क्राईम मीटिंग ले एसएसपी सूरजपुर ने दिये लंबित अपराधों में शीघ्र जांच करने के निर्देश


सूरजपुर।जिले के थाना चौकी प्रभारियों के द्वारा माहभर किये गये कार्यवाही की जानकारी लेने, तामील हुये समंस वारंट, लंबित अपराध, चालान, शिकायत, मर्ग, गुम इंसान के प्रकरणों की समीक्षा कर उसके निराकरण करने हेतु क्राईम मीटिंग में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आर.पी.साय  द्वारा अावश्यक दिशा-निर्देश दिया गया।
इस दौरान उन्होंने पूर्व में हुये क्राईम मीटिंग के दौरान दिये गये निर्देशों पर की गई कार्यवाही की विस्तृत जानकारी लेकर पुलिस महानिरीक्षक सरगुजा रेंज हिमांशु गुप्ता के द्वारा समय-समय पर जारी निर्देशों के तारतम्य में आवश्यक कार्यवाही करने, थाना प्रभारियों को संज्ञेय अपराध की सूचना व शिकायत पर तत्काल एफआईआर दर्ज करने, लंबित शिकायतों का त्वरित निराकरण करने, आॅपरेशन ‘‘तलाश’’ के दौरान गुमशुदा के प्रकरणों में दस्तयाब हुये बालक बालिकाओं की जानकारी लेकर लंबित गुम इंसान की पतासाजी करने हेतु पुलिस टीम रवाना करने, लंबित स्थाई वारंटों की तामीली में और वृद्धि करने, अपराधों की रोकथाम एवं पुलिस की प्रभावशीलता में वृद्धि हेतु सामुदायिक पुलिसिंग के तहत कार्य करने, लंबित जप्ती माल का निराकरण यथाशीघ्र कराने, थाना चौकी परिसर में वृक्षारोपण करने, राजपत्रित अधिकारियों को थाना चौकी का आकस्मिक निरीक्षण कर पाये गये खामियों को अपने सामने दुरूस्त कराने के निर्देश दिये।
मीटिंग में एसएसपी सूरजपुर श्री साय ने शिकायत लेकर थाना चौकी आने वाले फरियादियों को शिकायत पावती पर शिकायत प्राप्ति दिनांक, शिकायत क्रमांक एवं निराकरण की संभावित तिथि लेख कर पावती देने, सामुदायिक पुलिसिंग के तहत् पुलिस मित्र अभियान, शासकीय अधिकारियों कर्मचारियों की समन्वय बैठक एवं अन्य जागरूकता के कार्यक्रम बेहतर तरीके से करने पर प्रसन्नता जाहिर की।
इस दौरान सीएसपी डी.के.सिंह, एसडीओपी प्रतापपुर आर.के.शुक्ला, रक्षित निरीक्षक रामप्रसाद पैकरा, स्टेनो पुष्पेन्द्र शर्मा, सूबेदार सनत ठाकुर, थाना प्रभारी तेजनाथ सिंह, अनूप एक्का, रामेन्द्र सिंह, प्रदुम्मन तिवारी, सी.पी.तिवारी, सी.आर.राजवाड़े, रूंगटूराम टोप्पो, स्पेशल पुलिस टीम प्रभारी सरफराज फिरदौसी, चौकी प्रभारी रामनरेश गुप्ता, राजेश तिवारी, कपिलदेव पाण्डेय, सुमन्त पाण्डेय, बृजनाथ साय पैकरा, एसआई आर.एम.यादव, एएसआई विमलेश सिंह, एस.आर.चैहान, हिम्मत सिंह शेखावत, रामाराम राठिया, डीएसबी प्रभारी शिवराम कुंजाम, एसआई जे.पी.लकड़ा, एस.पी.खाखा एवं एसआरसी प्रभारी आनंदराम पैकरा एवं शिकायत शाखा प्रभारी अमिताभ उपस्थित रहे।

शुक्रवार, 16 जून 2017

नशे के विरूद्ध सफल कार्यवाही :5 लाख के नशीले कफ सिरप व टेबलेट बरामद






सूरजपुर । पुलिस महानिरीक्षक सरगुजा रेंज हिमांशु गुप्ता के मार्गदशर्न में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आर.पी.साय के निर्देशन में जिले में नशे के विरूद्ध चलाये गये अभियान के तहत आज दिनांक 15 जून को जरिये मुखबीर एवं आबकारी एसआई के द्वारा सूचना मिला कि कैप्टन उर्फ सुरेन्द्र सिंह सरदार के द्वारा भारी मात्रा में नशीली दवाईयां ग्राम केशवनगर में शिवशंकर हरिजन के घर में अपने कब्जे में छिपाकर रख कर नशोड़ी युवकों को बिक्री कर रहा है एवं परिवहन करने की तैयारी में है, इस सूचना पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सूरजपुर आर.पी.साय द्वारा तत्काल सीएसपी सूरजपुर डी.के.सिंह के नेतृत्व में थाना विश्रामपुर एवं स्पेशल पुलिस टीम को आवश्यक दिशा निर्देश देकर रेड कार्यवाही हेतु रवाना किया गया जो पुलिस टीम के द्वारा ग्राम केशवनगर स्थित शिवशंकर हरिजन के घर पर रेड कार्यवाही किया गया जहां घर मालिक शिवशंकर हरिजन पिता शिवबालक उम्र 32 वर्ष निवासी ग्राम केशवनगर एवं कैप्टन उर्फ सुरेन्द्र सिंह पिता त्रिलोक सरदार उम्र 50 वर्ष निवासी शिवनंदनपुर, थाना विश्रामपुर मौके पर अपनेअपने कब्जे में रखे नशीली दवाओं क्रमशः (1) एल्परा जोलम टेबलेट कुल 1,19,550 नग (एक लाख उन्नीस हजार पॉच सौ पचास) कीमती 2 लाख 42 हजार 2 सौ 80 रूपये (2) स्पासमो 23,120 नग (तेईस हजार एक सौ बीस) कीमती 91,190 (इनकानबे हजार एक सौ नब्बे रूपये) (3) रिलेक्सो कफ सिरप 1,936 नग (एक हजार नौ सौ छत्तीस) कीमती 2,32,320 (दो लाख बत्तीस हजार तीन सौ बीस रूपये) कुल कीमती 5 लाख रूपये के साथ पकड़े गये। पूछताछ करने पर कैप्टन उर्फ सुरेन्द्र सिंह सरदार ने बताया कि स्वयं के गुरूनानक मेडिकल दुकान का संचालन करता है उसी के आड़ में नशीली दवा को शिवशंकर हरिजन के घर में गोदाम बनाकर छिपाकर रख कर नशेड़ी युवकों को दो तीन गुना अधिक कीमत में बिक्री कर लाभ कमाता था।
इस मामले के मुख्य सरगना कैप्टन सरदार के विरूद्ध लगातार पुलिस को इस तरह की शिकायतें प्राप्त हो रही थी कि कैप्टन सरदार द्वारा विगत 20 वर्षो से विश्रामपुर शहर एवं आसपास के ग्रामीण व शहरी इलाकों में नवयुवकों को नशे के दवाईयां एवं इंजेक्शन एक्सपारी तिथि वाला बेच कर जीवन बर्बाद कर रहा है। पकड़े गये दोनों आरोपियों के विरूद्ध थाना विश्रामपुर में अपराध क्रमांक 129/17 धारा 21(सी) एनडीपीएस एक्ट के तहत कार्यवाही किया गया है।
इस कार्यवाही में सीएसपी सूरजपुर डी.के.सिंह के नेतृत्व में थाना प्रभारी विश्रामपुर एसआई सुनील तिवारी, आबकारी एसआई शीला बड़ा, स्पेशल पुलिस टीम प्रभारी सरफराज फिरदौसी, एएसआई मनोज सिंह, विमलेश सिंह, उमेश सिंह एवं पुलिस के प्रधान आरक्षक एवं आरक्षकगण सक्रिय रहे। 

शनिवार, 3 जून 2017

प्रधान आरक्षक से एएसआई के पद पर पदोन्नत


सूरजपुर। विगत दिनों पुलिस महानिरीक्षक सरगुजा रेंज हिमांशु गुप्ता के द्वारा जिला बलरामपुर में कार्यरत प्रधान आरक्षक महाबीर राम को विभागीय परीक्षा उपरान्त एएसआई के पद पर पदोन्नत कर जिला सूरजपुर में ज्वाईनिंग के आदेश जारी किये थे। प्रधान आरक्षक महाबीर राम को पदोन्नत किये जाने के फलस्वरूप आज जिला सूरजपुर में आमद आने पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सूरजपुर आर.पी.साय एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक एस.आर.भगत के द्वारा स्टार लगाकर एएसआई के पद पर पदोन्नति पर ज्वाईनिंग दिलाई। इस दौरान प्रिशक्षु डीएसपी संदीप मित्तल, निधि सोम, एसआरसी प्रभारी आनंद राम पैकरा, रक्षित निरीक्षक रामप्रसाद पैकरा, डीएसबी प्रभारी शिवराम कुंजाम एवं एसआरसी प्रभारी आनंद राम पैकरा उपस्थित रहे। 

थाना चंदौरा : हत्या का आरोपी गिरफ्तार


सूरजपुर । थाना चंदौरा के ग्राम सिघरी के सघुवर राजवाड़े उम्र 40 वर्ष को गत 25 मई को ग्रामीणों द्वारा गांव में राजू राजवाड़े के दुकान के सामने गिरा पड़ा रहने पर 108 एम्बुलेंश बुलाकर चेहरे में चोटे आने से शासकीय अस्पताल प्रतापपुर में भर्ती कराया गया था जो उपचार के दौरान अस्पताल में सघुवर पिता अमीर साय उम्र 40 वर्ष निवासी सिघरी की मृत्यु हो गई। सूचना पर पुलिस ने मर्ग कायम कर पंचनामा कार्यवाही कर शव को पी0एम0 कराया, पीएम रिपोर्ट में डॉक्टर द्वारा मृतक की मौत शरीर में आई चोटों के कारण होना लेख किया गया जिस पर थाना प्रभारी चंदौरा सी.पी.तिवारी के द्वारा हालात से वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सूरजपुर आर.पी.साय को अवगत कराते हुये अज्ञात आरोपी के विरूद्व अपराध क्रमांक 41/17 धारा 302 भादवि का अपराध पंजीबद्व किया। मामले की गंभीरता को देखते हुये एसएसपी सूरजपुर आर.पी.साय ने अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक एस.आर.भगत के नेतृत्व में थाना चंदौरा पुलिस को अज्ञात आरोपियों की पतासाजी कर गिरफ्तार करने हेतु निर्देशित किये। चंदौरा पुलिस ने जांच में पाया कि दिनांक 24/05/17 को रात्रि में मृतक सघुवर के भजीजा उमेश राजवाड़े पिता गया प्रसाद उम्र 19 वर्ष निवासी सिघरी के द्वारा डण्डा से मारपीट कर बेहोश कर दिया था रातभर रोड़ किनारे राजू राजवाड़े के बंद दुकान के सामने पड़ा रहा, दूसरे दिन ग्रामीणों के द्वारा अस्पताल भेजा गया था जो उपचार के दौरान सघुवर की मृत्यु हो गई। पारिवारिक विवाद के गाली गलौज करने से आरोपी ने सघुवर को मारकर हत्या कर दिया। आरोपी उमेश राजवाड़े पिता गया प्रसाद उम्र 19 वर्ष निवासी सिघरी, थाना चंदौरा के विरूद्व अपराध सबूत पाये जाने पर उसे गिरफ्तार कर न्यायालय पेश किया गया। इस कार्यवाही में थाना प्रभारी चंदौरा सी.पी.तिवारी, एएसआई रविन्द्र प्रताप सिंह, प्रधान आरक्षक विवेकानंद सिंह, आरक्षक अवधेश कुशवाहा, मिथलेश गुप्ता, भोला राजवाड़े, प्रवीण तिर्की व अन्य आरक्षकगण सक्रिय रहे।