FACEBOOK page of THANA

FACEBOOK page of THANA

सोमवार, 18 सितंबर 2017

बसदेई बाजार में चलित थाने का अायोजन



दिनांक 17/09/17 को चौकी बसदेई अंतर्गत ग्राम बसदेई बाजार में चलित थाना लगाया गया जिसमें मुख्य रूप से श्री बाबूलाल गोयल, नगर पालिका अध्यक्ष थलेश्वर साहू, दीपेंद्र सिंह, धर्मपाल राजवाड़े, एवं अन्य ग्रामीण उपस्थित रहे। जहाँ लोगों की समस्याओं को सुनने पश्चात् तत्काल निराकरण किया गया। लोगों को चिटफंड कंपनी, मोबाईल फोन से होने वाले बैंक एटीएम फ्रॉड, गांव गांव में सोना चांदी धोने का झांसा देकर ठगी करने वाले व्यक्तियों, झाड़ फूंक के नाम पर ठगी , टोनही प्रताड़ना, महिला सम्बंधित अपराध, महुआ शराब बनाने व् बिक्री पर प्रतिबन्ध लगाने एवं आने वाले त्योहारों के मद्देनजर दुर्गा उत्सव के सम्बन्ध में शांति पूर्वज सामन्जस्य पूर्वक मनाये जाने सम्बंधित दिशा निर्देश दिया गया। कार्यक्रम में उपस्थित श्री बाबूलाल गोयल जी के द्वारा लोगों से पुलिस को सहयोग प्रदान करने की अपील की गई।लोगों के साथ अपराध मुक्त बसदेई बनाने की शपथ लेकर चलित थाने कार्यक्रम में चौकी स्टॉफ की सहभागिता बनी रही।

शुक्रवार, 15 सितंबर 2017

सूरजपुर पुलिस ने मेघावी छात्र/छात्राओं को किया सम्मानित

सूरजपुर

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सूरजपुर आर.पी.साय के निर्देशन एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक एस.आर.भगत के मार्गदर्शन में सामुदायिक पुलिसिंग के तहत् आज थाना कोतवाली सूरजपुर में सीएसपी डी.के.सिंह ने स्थानीय शासकीय बालक व बालिका उच्चतर माध्यमिक विद्यालय, ग्लोबल पब्लिक स्कूल एवं सरस्वती षिषु मंदिर के 20 मेघावी छात्र व छात्राओं को स्मृति चिन्ह एवं प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया। इस दौरान सीएसपी श्री सिंह ने छात्र/छात्राओं को अच्छी शिक्षा अनुशासन में रहकर प्राप्त करने, मित्र छात्रों को बेहतर शिक्षा प्राप्त करने हेतु प्रोत्साहित करने की समझाईश दिये। इस दौरान थाना प्रभारी सूरजपुर अनूप एक्का, जेल संदर्शक प्रवेष गोयल, सेराज अहमद, एएसआई सुनील सिंह, प्रधान आरक्षक राहुल गुप्ता, रजनीश त्रिपाठी, अजय पाण्डेय, अखिलेश यादव सहित काफी संख्या में स्कूली छात्र/छात्राएं उपस्थित रहे।





गुरुवार, 14 सितंबर 2017

"हमर दूवार -हमर रखवार "

थाना झिलमिली 

दिनांक 14/9/17 को "हमर दूवार -हमर रखवार " के अंतर्गत ग्राम दवना में चलित थाना का आयोजन किया गया ,
उपस्थित लोगो को चिट फंड कंपनी,मानव तस्करी,फर्जी फोन काल(एटीएम सम्बन्धी),फर्जी जमीन दलाल,प्लेसमेन्ट एजेंसी,फ़र्ज़ी टावर लगाने ,जेवरात साफ़ करने वालो,से बचने के उपाय बताये गये।
हेलमेट की अनिवार्यता,एवं यातायात के नियमो की जानकारी भी दी गई। ज़ूआ , सट्टा जैसे सामाजिक बुराई से दूर रहने एवम इसके दुष्प्रभाव से अवगत कराया गया।



मंगलवार, 12 सितंबर 2017

पुलिस मित्र अभियान ....

थाना भटगांव 

दिनांक 12 सितंबर 2017 को श्रीमान वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक महोदय के निर्देशानुसार एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक महोदय के मार्गदर्शन में भटगांव थाना प्रभारी पीके तिवारी के द्वारा पुलिस थाना भटगांव के अपने सहयोगी स्टाफ के साथ शासकीय कन्या हायर सेकेंडरी स्कूल भटगांव जाकर कक्षा 9वी से लेट कक्षा बारहवीं तक के कुल करीब 600 छात्राओं एवं विद्यालय शिक्षक शिक्षिकाओं को एवं साप्ताहिक बाजार जरही मैं आस-पास के ग्रामों से आएआम ग्रामीणों पुरुष एवं महिलाओं को सामुदायिक पुलिसिंग को बढ़ावा देने के उद्देश्यों की पूर्ति के क्रम पुलिस मित्र अभियान के अंतर्गत ब्लू व्हेल चैलेंज गेम से सुरक्षित रहने खतरनाक गेम से बचने से संबंधित दिए गए निर्देशों की जानकारी दी जा कर पंपलेट के 500 फोटो कॉपी कराई जा कर वितरित किया गया इसी क्रम में पुलिस मित्र अभियान के संपत्ति के सुरक्षा संबंधी निर्देशों एवं फर्जी चिटफंड कंपनियों के एजेंटों के द्वारा कम समय में दो-तीन गुना अधिक रकम देने के झांसे में आकर रकम फर्जी चिटफंड कंपनियों में निवेश नहीं करने संबंधी निर्देशों के पंपलेट वितरित किए जा कर सुरक्षात्मक जानकारी अपने घर जाकर अपने अभिभावकों भाइयों पड़ोसियों ग्राम के लोगों को जानकारी देने की समझाइश दी गई इसी प्रकार बच्चों के विरुद्ध होने वाले विभिन्न प्रकार के अपराधों के विरुद्ध कानूनी प्रावधानों पास्को एक्ट जुवेनाइल जस्टिस एक्ट एवं भारतीय दंड विधान में संशोधित कानूनों के संबंध में विस्तार से जानकारी दी गई तथा यातायात नियमों की विस्तार से जानकारी दी जा कर यातायात नियमों का पालन करने की समझाइश दी गई बालिकाओं के साथ किसी प्रकार की घटना होने की जानकारी मोबाइल फोन से पुलिस को तत्काल देने की समझाइश देकर पुलिस थाने के प्रभारी एवं थाने के अधिकारियों तथा चाइल्ड हेल्पलाइन महिला हेल्पलाइन पुलिस कंट्रोल रूम के टोल फ्री मोबाइल नंबर मोबाइल नंबर नोट कराए गए।




सोमवार, 11 सितंबर 2017

ब्लू व्हेल गेम से बच्चों को सुरक्षित रखने के लिये पुलिस की सभी नागरिकों से अपील


जनजागरुकता के लिये प्रयासरत जिला पुलिस

थाना रामानुजनगर

थाना रामानुजनगर द्वारा ग्राम सागरपुर में चलित थाना लगाकर महिलाओ से संबंधित अपराधों के संबंध में चिटफंड कंपनियों, सायबर अपराध,शराबबंदी ,एवम अन्य कानून के संबंध में जानकारी दी गई तथा कबड्डी खेल का आयोजन कर ईनाम दिया गया । 




शुक्रवार, 8 सितंबर 2017

थाना प्रतापपुर पुलिस ने 48 घण्टे के भीतर दो अलग-अलग अनसुलझे हत्या के मामले को सुलझाया



सूरजपुर। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सूरजपुर आर.पी.साय एवं एसडीओपी प्रतापपुर आर.के.शुक्ला के मार्गदर्शन एवं दिशा निर्देशन में प्रतापपुर पुलिस ने 48 घण्टे के भीतर दो अलग अलग अनुसलझे हत्या के मामले का खुलासा किया है। 
प्रथम घटना गत् 4 सितम्बर को ग्राम बगड़ा के मेरसाय ने थाना में मर्ग कायम कराया कि उसकी भाभी नानबाई उर्फ कंचन सिंह का शव संदेहास्पद रूप् से उसके ही आवास पर पड़ा मिला है सूचना पर प्रतापपुर पुलिस ने गंभीरता से मर्ग पंचनामा करते हुई नानबाई की हत्या का आशंका पाया। डाॅक्टर ने भी पोस्टमार्टम में नानबाई की हत्या हुई बताया। प्रतापपुर पुलिस ने मामले की गंभीरता से विवेचना करते हुये इस हत्या की गुत्थी को सुलझाया। गांव के ही आरोपी युवक खेलसाय पनिका ने कपिल सिंह को पहरेदार के रूप में नानबाई के घर ले गया था। खेलसाय अंदर जाकर नानबाई से जबरदस्ती शारीरिक संबंध बनाने का प्रयास करने लगा, नानबाई के मना करने व शारीरिक संबंध बनाने में असफल रहने से क्षुब्ध होकर गला दबाकर बिस्तर में पटक कर जान से मार दिया। घटना समय में कपिल सिंह की नानबाई के घर के सामने पहरेदारी को प्रत्यक्षदर्शियों ने देख लिया था जिसे पुलिस ने जानकर शंका के आधार पर पूछताछ प्रारंभ कर मामले का खुलासा किया। पुलिस ने दोनों आरोपियों को धारा 302, 201 के तहत् गिरफ्तार कर रिमाण्ड पर भेजा गया।
दूसरे घटना में गत् 5 सितम्बर को सुबराज अगरिया निवासी सिंघरा ने थाना में सूचना दिया कि उसकी पत्नी भिंसारी बाई को भतीजे रामवृक्ष एवं उसकी पत्नी मानमती ने घटना दिनांक 04/09/17 के लगभग 3 बजे टांगा व हथौड़ा से प्राणघातक हमला कर जान से मार दिया है। रिपोर्ट पर प्रतापपुर पुलिस ने अपराध क्रमांक 161/17 धारा 302, 201 के तहत् मामला पंजीबद्ध शव पंचनामा एवं विवेचना करते हुये पाया कि आरोपी रामवृक्ष एवं उसकी पत्नी मानमती दोनों आदतन शराबी थे, अपनी सम्पत्तियों को बेचकर समाप्त कर चुके थे तथा अपने चाचा चाची भिंसारी एवं सुबराज के जमीन पर नजर गड़ाये थे इसी कारण विगत वर्षो से रंजीश रखे हुये थे। त्यौहार के दिन शराब के नशे में मौका पाकर अपनी चाची भिंसारी पर प्राणघातक हमला कर जान से मार दिये। पुलिस ने आरोपियों से मेमोरण्डम कथन लेकर घटना में प्रयुक्त आलाजरब जप्त कर आरोपियों को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया।
दोनों ही गंभीर अपराध को सुलझाने में थाना प्रभारी प्रतापपुर दीपक भारद्वाज, एएसआई आर.के.कश्यप, आर.डी.सिंह, गजपति मिर्रे, प्रधान आरक्षक केश्वर मरावी, रोशन टण्डन, भूपेन्द्र पोर्ते, आरक्षक अभय तिवारी, सोहर सिंह, बलदेव सिंह, बिरन सिंह, सुखसागर मरावी, अलबिनस तिर्की, प्यारेलाल राजवाड़े, विनोद परीड़ा व जयप्रकाश पन्ना की भूमिका रही।